Ethics of Chanakya in Hindi | चाणक्य नीति | Awesomegyani

Ethics of Chanakya in Hindi, चाणक्य नीति : सुखी जीवन के लिए हमेशा याद रखे इन बातो को

जीवन को सफल बनाने के लिए महान अर्थशास्त्री और राजनीतिज्ञ चाणक्य ने अनेकों नीतियाँ का उल्लेख किया है ताकि मनुष्य खुशहाली से अपना जीवन व्यतीत कर सके। ‘कौटिल्य’ नाम से प्रसिद्ध चाणक्य ने कुछ ऐसी नीतियों के बारे में बताया है जो आपके लिए बेहद उपयोगी है तो आइये जानते है कुछ बाते।

Ethics of Chanakya in Hindi

अपने घर का भेद न बताये(Don’t share family secrets)

अगर आप सुखी जीवन जीना चाहते हो तो चाणक्य की इस नीति को हमेशा याद रहे। क्योकि अगर अपने घर की स्थिति किसी को बताओगे तो हो सकता है आपका दुश्मन इसका फायदा उठाये और आपको बर्बाद कर दे। इसलिए कितनी भी विकत स्थिति क्यों न हो घर का भेद खोलने से बचे।

अपने परिवार के सदस्यों की बुराई न करे(Don’t speak negative about your family)

आपके परिवार का कोई सदस्य कैसा भी है चाणक्य का कहना है उसकी बुराई दूसरों के सामने न करे हो सकता हो तो घर में ही बातचीत करके उसे सुलझाने की कोशिश करे, क्योकि कुछ लोग इस बात का फायदा उठाते है और आपके परिवार के सम्म्मान को ठेस पहुंच सकती है।

पैसे का संतुलन(Money Balance)

जीवन में पैसे के संतुलन को बनाये रखना बेहद जरुरी है आय और व्यय की समझ न रखने वाला इंसान बर्बाद हो जाता है और जीवन नर्क बनने में देर नहीं लगती। इसलिए जीवन की सफलता के लिए खर्च और कमाई में संतुलन का ध्यान रखे।

पिता का सबसे बड़ा दुःख(Father’s main grief)

चाणक्य के अनुसार पिता के लिए सबसे बड़ा कष्टदायी समय तब होता है जब वो अपनी पुत्री को विधवा के रूप में देखता है। इस दुःख का कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता और उस स्त्री को भी जीवन में कई तरह की पीड़ा सहनी पड़ती है। उस पुत्री के पिता का जीवन भी दुखदायी बन जाता है।

बुराई को दूसरों तक न पहुँचाये(Don’t let negative reach others)

अगर आपने किसी से कोई बात सुनी है तो ध्यान रहे कि उसे अपने तक ही सीमित रखे। निंदा और बुराई वाले शब्द दूसरों तक न पहुँचाये। अगर आप किसी की कोई बात अपने ही दिल में रखोगे तो आपका मान सम्मान बना रहेगा।

Chanakya Niti in Hindi

गुणवान स्त्री का होना किस्मत की बात(Educated woman is a matter of fate)

कहते है न अगर घर में समझदार स्त्री हो तो घर स्वर्ग बन जाता है और अगर मूर्ख स्त्री हो तो वही घर नर्क बनने में देर नहीं लगती, आचार्य का कहना है कि घर में गुणवान स्त्री घर को स्वर्ग बना देती है और घर में बेहतर सोच वाली स्त्री होना सौभाग्य की बात है। क्योकि एक सूझवान औरत ही अपने परिवार को बेहतर बनाने के बारे में सोच सकती है।

दान करना है बेहद जरुरी(Donation is important)

पैसा सभी के पास नहीं होता जिनके पास है वो भाग्यशाली है पर अगर उस पैसे का सही इस्तेमाल न हो तो सुखी जीवन कब नर्क में तब्दील हो जाए, कुछ पता नहीं।

चाणक्य के श्लोकों या नीतियों के बारे में बात करे तो उनका कहना है कि उस धन का कोई फायदा नहीं जो दान में न दिया जाए जरूरत से ज्यादा पैसा होने पर दानी स्वभाव न होना किसी काम का नहीं। पैसा तो बहुत से लोगों के पास होता है पर कुछ लोग उसे जमा करके रखते है  तो कुछ उस पैसे का सही समय पर इस्तेमाल करते है।

लालच के लिए रिश्ता न बनाये(Don’t make relations for greed)

लालची इंसान का जल्दी ही खात्मा हो जाता है इसलिए किसी से जुड़ने से पहले ये अच्छी तरह जान ले कि सहमने वाला इंसान किसी लोभ में तो नहीं। क्योकि लालच के लाभ में बने रिश्ते ज्यादा देर तक नहीं चलते।

चोर किसी की पीड़ा नहीं समझता(A thief never understands the pain of anyone)

चाणक्य का कहना है कि चोर को किसी की पीड़ा से कुछ लेना देना नहीं होता, उसका मकसद सिर्फ चोरी करना होता है वो ये नहीं समझता कि उस चोरी से सामने वाले को कितनी बड़ी परेशानी हो सकती है।

अपनी कमजोरी न करे उजागर(Don’t expose your weakness)

उनके अनुसार अपनी कमजोरियों को किसी के सहमने व्यक्त न करे नहीं तो विरोधी आपका फायदा उठाकर आपको भारी नुक्सान पंहुचा सकता है।

धैर्य होना सफलता की निशानी(Having patience is a signal of success)

किसी इंसान में धैर्य होना बहुत जरुरी है धैर्यवान व्यक्ति सफलता को आसानी से हासिल कर सकता है पर धैर्य न होना व्यक्ति को एक समय बाद बर्बाद कर सकता है।

सीखने के लिए झुकना जरुरी(Need to bow down to learn)

जिस प्रकार कुएं में उतरी बाल्टी भर कर बाहर आती है उसकी प्रकार जीवन का नियम है जो झुकेगा वही प्राप्त करेगा। इसलिए झुकने में शर्म न करे अगर आपको अपने से छोटे से कुछ सीखने का मौका मिले तो उसे सीखना बेहतर है।

जीवन में आगे बढ़ने का नियम(Rule to move forward in life)

जीवन में आगे बढ़ना है तो दुनिया की बातों पर गौर करना छोड़ दो कि दुनिया क्या कहेगी क्योकि ज्यादातर लोगों की बातें आपका मनोबल गिराने वाली होंगी। इसलिए जो करना है उसे पूरा मन लगा कर करे।

कुछ जरुरी बातें

1) जिस प्रकार शेर के सामने अपना शिकार जैसा भी हो वो पूरी शक्ति लगा देता है उसी प्रकार काम छोटा हो या बड़ा उसे अपनी पूरी शक्ति लगा कर करे। ये सच है क्योकि पूरी मेहनत से किया गया काम रंग तो लाता ही है और हमे संतुष्टि भी प्रदान करता है।

2) किसी भी व्यक्ति के गुण उसको ऊंचा बनाते है, न की व्यक्ति ऊंचे स्थान पर बैठकर ऊँचा बन जाता है।

3) अगर जहर से भी अमृत निकालना पड़े तो निकालना अच्छा है कहने का भाव है कि गंदगी में पड़े सोने को पानी से धोकर अपनाना भी ठीक है।

4) जो व्यक्ति ताकतवर न होते हुए भी अंदरूनी तौर पर हार नहीं मानता उससे ताकतवर कोई नहीं हो सकता। मतलब दुनिया की कोई भी ताकत उस इंसान को हरा नहीं सकती।

चाणक्य ने अपने श्लोकों में बहुत सी बातों का उल्लेख किया है जिन्हे समझकर अपने जीवन में धारण करने से हम अपने जीवन को बेहतर बना सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.